Rajasthan Indira Rasoi Yojana: गरीब लोगों के लिए भोजन 8 रुपए में

Rajasthan Indira Rasoi Yojana – राजस्थान इंदिरा रसोई योजना 2022

राजस्थान इंदिरा रसोई योजना 2022 indirarasoi.rajasthan.gov.in पर ऑनलाइन अप्‍लाई करें। गरीब लोगों के लिए खाद्य थाली @ 8 रुपये प्रति प्लेट, योजना लाभ।

राजस्थान की राज्य सरकार ने राज्य के नागरिकों के कल्याण के लिए इंदिरा रसोई योजना शुरू की है। इस योजना के तहत गरीब लोगों को भोजन उपलब्ध कराया जाएगा। यह योजना राज्य के गरीब लोगों को 2 भोजन (नाश्ता और दोपहर का भोजन) प्रदान करेगी। इससे पहले इसी तरह की एक इंदिरा रसोई योजना शुरू की गई थी जिसे अन्नपूर्णा रसोई योजना कहा जाता है।

राजस्थान इंदिरा रसोई योजना क्या है? योजना को कैसे लागू किया जाएगा? ये कुछ सामान्य प्रश्न हैं जो लोग योजना के बारे में पूछ रहे हैं। योजना के बारे में पूरी जानकारी के लिए लेख को अंत तक पढ़ें। इस लेख में राजस्थान इंदिरा रसोई योजना के लिए आवेदन करने की विशेषताएं, उद्देश्य, आवश्यकता, पात्रता और प्रक्रिया शामिल होगी।

Rajasthan Indira Rasoi Yojana – राजस्थान इंदिरा रसोई योजना 2022

Rajasthan Indira Rasoi Yojana

राजस्थान के मुख्यमंत्री ने Rajasthan Indira Rasoi Yojana – राजस्थान इंदिरा रसोई योजना शुरू की है। यह योजना राज्य के लोगों को COVID-19 और COVID19 के बाद के लाभ के लिए शुरू की गई थी। COVID-19 के दौरान, कई लोगों ने अपनी नौकरी और अपनी आजीविका खो दी। दिहाड़ी मजदूरों के लिए पैसा कमाना और अपने परिवार के सदस्यों का खाली पेट भरना मुश्किल था। राज्य के श्रमिकों और अन्य लोगों की मदद के लिए यह योजना शुरू की गई थी।

राजस्थान इंदिरा रसोई योजना के प्रथम चरण में राज्य के 214 शहरी स्थानीय स्थानों पर लागू किया जाएगा। अन्नपूर्णा रसोई योजना पहले से ही राजस्थान में चल रही थी और अब इसकी जगह इंदिरा रसोई योजना ने ले ली है। यह योजना राज्य के जरूरतमंद और भूखे लोगों को भोजन और अन्य सुविधाएं प्रदान करेगी। योजना द्वारा प्रदान किया जाने वाला भोजन राज्य के इन लोगों के पोषण को सुनिश्चित करेगा।

राजस्थान इंदिरा रसोई योजना (Implementation of Rajasthan Indira Rasoi Yojana)

राजस्थान इंदिरा रसोई योजना कैसे लागू होगी? यह योजना राजस्थान राज्य सरकार और राज्य के गैर सरकारी संगठनों के संयुक्त प्रयासों से लागू की जाएगी। राजस्थान सरकार ने योजना के सफल क्रियान्वयन के लिए 100 करोड़ रुपये आवंटित किए हैं। सूचना प्रौद्योगिकी का उपयोग करके योजना की निगरानी की जाएगी। योजना की प्रभावी निगरानी आवश्यक है। यह योजना जयपुर की 12 नगर पालिकाओं में शुरू हो चुकी है।

राजस्थान इंदिरा रसोई योजना में थाली दर (Thali Rate of Rajasthan Indira Rasoi Yojana)

जिला स्तरीय समितियां थाली में नई वस्तुओं का सुझाव दे सकती हैं या वे राज्य के किसी अन्य मुख्य भोजन के लिए किसी अन्य वस्तु की जगह ले सकती हैं। परोसे जाने वाले भोजन की गुणवत्ता की जांच करने के लिए जिला स्तरीय समितियां भी जिम्मेदार हैं, यह ध्यान में रखते हुए कि पोषण का स्तर उच्च होना चाहिए। अगर किसी को परोसे जाने वाले भोजन के खिलाफ कोई शिकायत है, तो वे जिला समितियों को रिपोर्ट कर सकते हैं।

योजना के तहत थाली परोसी जाएगी और योजना के तहत मेनू इस प्रकार होगा-

मेनूवजन
दाल100 ग्राम
सब्जियां100 ग्राम
चपाती250 ग्राम
अचार

राजस्थान इंदिरा रसोई योजना विवरण (Rajasthan Indira Rasoi Yojana Overview)

विवरणइंदिरा रसोई योजना
योजनाIndira Rasoi Yojana (इंदिरा रसोई योजना)
राज्य सरकार के अधीनराजस्थान
लाभार्थीगरीब लोग
रजिस्ट्रेशनराज इंदिरा रसोई योजना पंजियान ऑनलाइन
आधिकारिक पोर्टलindirarasoi.rajasthan.gov.in
कीमत8 रुपये प्रति थाली

राजस्थान इंदिरा रसोई योजना ऑनलाइन के लिए अप्‍लाई कैसे करें? (How To Apply online Rajasthan Indira Rasoi Scheme)

योजना की विशेषताएं-

  • राजस्थान के मुख्यमंत्री ने 22 जून 2020 को इंदिरा रसोई योजना की शुरुआत की।
  • इस योजना का मुख्य उद्देश्य उन जरूरतमंद लोगों को भोजन उपलब्ध कराना है जो अपनी नौकरी खो चुके हैं या COVID-19 के कारण भोजन का खर्च उठाने में असमर्थ हैं।
  • इस योजना के तहत लाभार्थियों को आठ रुपये प्रतिदिन के हिसाब से भोजन उपलब्ध कराया जाएगा।
  • योजना के लाभार्थी गरीब और जरूरतमंद लोग हैं।
  • योजना अभी भी सक्रिय है।
  • योजना के मेन्यू में प्रति प्लेट 100 ग्राम दाल, 100 ग्राम सब्जियां, 250 ग्राम चपाती और अचार शामिल होंगे।
  • यह योजना प्रति दिन कम से कम 1.34 लाख लोगों और प्रति वर्ष 4.7 करोड़ लोगों को लक्षित करने के लिए निर्धारित है।
  • राज्य सरकार ने योजना के लिए 100 करोड़ का बजट आवंटित किया है।

राजस्थान इंदिरा रसोई योजना के तहत भोजन का समय (Rajasthan Indira Rasoi Yojana Timings)

इस योजना के तहत, भोजन दो अलग-अलग समय पर उपलब्ध कराया जाएगा क्योंकि नाश्ता और दोपहर का भोजन दोनों को कवर करना होगा। सुबह 8:30 बजे से दोपहर 1 बजे तक और शाम को 5 बजे से रात 8 बजे तक भोजन उपलब्ध कराया जाएगा। इस योजना में प्रति दिन दो भोजन सस्ती कीमतों पर शामिल होंगे। यह योजना रेलवे स्टेशन, बस स्टैंड और अन्य क्षेत्रों जैसे भीड़-भाड़ वाले क्षेत्रों में स्थापित की जाएगी।

[यह भी पढ़े: Kerala Swasraya Yojana 2022: ऑनलाइन रजिस्‍ट्रेशन, उद्देश्य, पात्रता]

राजस्थान इंदिरा रसोई स्थान (Location of Rajasthan Indira Rasoi)

राजस्थान इंदिरा रसोई योजना का उद्देश्य (Rajasthan Indira Rasoi Yojana Objective)

राजस्थान इंदिरा रसोई योजना का मुख्य उद्देश्य राज्य के जरूरतमंद और गरीब लोगों को पौष्टिक और अच्छी गुणवत्ता वाला भोजन उपलब्ध कराना है। लोगों को परोसे जाने वाले भोजन की अच्छी गुणवत्ता सुनिश्चित करने के लिए प्रदान किए जाने वाले भोजन की खाद्य गुणवत्ता जांच से गुजरना होगा। राज्य के कई लोग अच्छी गुणवत्ता और पौष्टिक भोजन की अनुपलब्धता के कारण कुपोषित हैं, यह दर इस योजना के माध्यम से कम किया जाएगा।

राजस्थान इंदिरा रसोई योजना से कोरोना मरीजों को कैसे फायदा होगा?

राज्य सरकार ने राज्य के कोरोना संक्रमित लोगों को योजना के तहत मुफ्त भोजन उपलब्ध कराने का निर्णय लिया है। कोरोनावायरस की दूसरी लहर घातक है और कई लोग संक्रमित हो चुके हैं, यह योजना उन लोगों को आवश्यक पोषण प्रदान करेगी। इस कदम की घोषणा मंत्री शांति धारीवाल ने शनिवार 2022 को की।

इसके तहत आइसोलेशन वार्ड, अस्पताल या किसी केयर सेंटर में कोरोना संक्रमित मरीजों को निशाना बनाकर मदद की जाएगी। इसकी व्यवस्था जिला प्रतिबद्ध व अस्पतालों द्वारा की जाएगी। जिला कलेक्टरों को अस्पतालों, देखभाल केंद्रों और आइसोलेशन वार्डों में योजना काउंटर खोलने की सलाह दी जाती है, ताकि कोई भी जरूरतमंद व्यक्ति काउंटर पर जाकर भोजन की आपूर्ति कर सके।

राजस्थान इंदिरा रसोई योजना का पात्रता मानदंड (Eligibility criteria of Rajasthan Indira Rasoi Yojana)

  • योजना के लाभार्थी गरीब और जरूरतमंद लोग हैं, लेकिन सामान्य तौर पर कोई भी इस योजना का लाभ उठा सकता है।
  • लाभार्थी को उस स्थान पर उपस्थित होना चाहिए जहां भोजन उपलब्ध कराया जाएगा।
  • योजना का लाभार्थी राजस्थान का निवासी होना चाहिए क्योंकि भोजन की आपूर्ति शहर के भीतर ही उपलब्ध होगी।

राजस्थान इंदिरा रसोई योजना रजिस्ट्रेशन (Rajasthan Indira Rasoi Yojana Registration)

राजस्थान इंदिरा रसोई योजना के लिए अप्‍लाई कैसे करें?  (How to apply for Rajasthan Indira Rasoi Yojana)

योजना के लिए आवेदन कैसे करें?

यह योजना राज्य के लोगों को सस्ती दरों पर पौष्टिक भोजन उपलब्ध कराएगी। खाद्य ट्रक बस स्टैंड और रेलवे स्टेशनों जैसे विभिन्न स्थानों पर स्थापित किए जाएंगे। सरकार कैंटीन खोलेगी ताकि जरूरतमंदों को खाना मिल सके। योजना के लिए आधिकारिक रूप से आवेदन करने की कोई आवश्यकता नहीं है, कोई भी निर्धारित स्थानों से खाद्य सामग्री प्राप्त कर सकता है।

राजस्थान इंदिरा रसोई योजना की सफलता

मई 2022 को प्रस्तुत आंकड़ों के अनुसार, यह योजना राज्य के 1 करोड़ से अधिक जरूरतमंद लोगों तक पहुंच चुकी है। संबंधित अधिकारियों ने अधिक से अधिक लोगों तक पहुंचने और जरूरतमंद लोगों को बेहतर गुणवत्ता वाला भोजन उपलब्ध कराने के लिए काफी मेहनत की है। राजस्थान की राज्य सरकार ने आधिकारिक पोर्टल पर इंदिरा रसोई योजना की आधिकारिक वेबसाइट भी लॉन्च की है।

आधिकारिक पोर्टलयहां क्लिक करें
श्रेणी होमपेजयहां क्लिक करें

राजस्थान इंदिरा रसोई योजना पर अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न

FAQ on Rajasthan Indira Rasoi Yojana

राजस्थान इंदिरा रसोई योजना के अंतर्गत कौन भोजन कर सकता है?

इस योजना के तहत कोई भी व्यक्ति भाजन कर सकता हैं, यहां भोजन के लिए कोई भेदभाव नहीं किया जाता।

क्या इंदिरा रसोई में भोजन करने के लिए किसी डयॉक्‍यूमेंट को साथ लाने की आवश्यकता होती हैं?

नहीं, भोजन के लिए किसी डयॉक्‍यूमेंट साथ लाने की जरूरी नहीं हैं। यहां भोजन के लिए किसी से भी कोई डयॉक्‍यूमेंट नहीं मांगा जाता।

इंदिरा रसोई में खाने में क्या मिलेगा?

आमतौर भोजन में पर सब्जी, रोटी, दाल और अचार होता हैं। लेकिन स्थानीय आवश्यकतानुसार यह मेन्यू बदल भी सकता है।

इंदिरा रसोई में किस समय पर भोजन मिलेगा?

सुबह का भोजन 8.30 बजे से दोपहर 1 बजे तक रहता हैं और श्याम का समय 5 बजे से रात्रि 8 बजे तक रहेगा।

अन्य योजनाओं की जानकारी जो आपको पढ़नी चाहिए:

MP Mukhyamantri Swarojgar Yojana – एमपी मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना

Chief Minister Aarogya Arunachal Yojana: पात्रता, लाभ

इस लेख को अंत तक पढ़ने के लिए अपना बहुमूल्य समय देने के लिए आपका बहुत-बहुत धन्यवाद।

आपका दिन शुभ हो!

Leave a Comment